ग्लोबल सेलिंग

भारत से एक्सपोर्ट बिज़नेस कैसे शुरू करें?

आसानी से भारत से एक्सपोर्ट करें और Amazon इंटरनेशनल मार्केटप्लेस पर लाखों कस्टमर तक पहुंचें.
रजिस्टर करने में 15 मिनट से भी कम समय लगता है
Amazon ग्लोबल सेलिंग के साथ भारत से एक्सपोर्ट करें

मैं भारत से प्रोडक्ट को कैसे एक्सपोर्ट कर सकता हूं?

Amazon ग्लोबल सेलिंग सेल
तय करें कि आप कहां एक्सपोर्ट करना चाहते हैं
पहला कदम ग्लोबल मार्केट और किन प्रोडक्ट की मांग है यह समझना है. इस अध्ययन से आपको यह तय करने में मदद मिलेगी कि भारत से आपके एक्सपोर्ट के लिए सही मार्केटप्लेस क्या है.
Amazon सेलर गाइड चेकलिस्ट
ज़रूरी दस्तावेज़ पाएं
भारत से एक्सपोर्ट करने के लिए (इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से) पैन और (DGFT से)IEC हासिल करें. IEC के लिए आवेदन सीधे DGFT वेबसाइट पर ऑनलाइन भरा जा सकता है.
कस्टमर खोजें
ऑफ़लाइन एक्सपोर्ट बिज़नेस शुरू करने पर आपको ट्रेड फेयर, खरीदार-सेलर मीट में भाग लेने की ज़रूरत हो सकती है जिसके लिए समय और पैसा, दोनों ही खर्च होंगे. लेकिन Amazon एक्सपोर्ट बिज़नेस शुरू करना आसान और सरल है. आप 18 Amazon ग्लोबल मार्केटप्लेस पर लाखों कस्टमर तक पहुंच सकते हैं.
Fulfillment by Amazon (FBA)
शिप करें और पेमेंट पाएं
समय पर डिलीवरी से न सिर्फ़ आपके कस्टमर के बीच भरोसा बढ़ता है, बल्कि इससे आपके प्रोडक्ट की बार-बार खरीदारी और रेफ़रल भी होते हैं. पेमेंट के लिए, आप या तो संबंधित देश में बैंक अकाउंट खोल सकते हैं या अपने भारतीय बैंक अकाउंट में पेमेंट ले सकते हैं. Amazon ग्लोबल सेलिंगके साथ, आपके पास दोनों ही विकल्प है.
भारत से एक्सपोर्ट करना है

Amazon के साथ भारत से एक्सपोर्ट क्यों करें?

अपनी सेल बढ़ाएं:
आप Amazon संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, सिंगापुर, मध्य पूर्व जैसे इंटरनेशनल मार्केटप्लेस पर Prime Day, ब्लैक फ़्राइडे और साइबर सोमवार जैसे इंटरनेशनल सेल इवेंट में भाग लेकर भारत से प्रोडक्ट को एक्सपोर्ट कर सकते हैं और अपनी सेल को ज़्यादा से ज़्यादा बढ़ा सकते हैं.
पूरे साल आपके प्रोडक्ट की मांग
पूरे साल में आपके प्रोडक्ट की मांग होगी. उदाहरण के लिए, अगर आप स्वेटर बेचते हैं और आपकी सबसे ज़्यादा मांग भारत में सर्दियों के मौसम में है, तो आप भारत से ऑस्ट्रेलिया में या दूसरे भौगोलिक क्षेत्रों में सर्दियों के पीक सीज़न (जून से अगस्त) में प्रोडक्ट एक्सपोर्ट कर सकते हैं.
झंझट मुक्त शिपिंग
आपके जैसे सेलर के लिए डिलीवरी और शिपिंग को आसान बनाने के लिए, हम Fulfillment by Amazon (FBA) का सुझाव देते हैं. आपको बस अपने प्रोडक्ट को Amazon के वेयरहाउस में भेजना होगा. Amazon आपकी ओर से पैकिंग, शिपिंग, रिटर्न, डिलीवरी और कस्टमर के फ़ीडबैक/सवालों को संभालता है. हम आपके लिए हर चीज का ख्याल रखते हैं.
डायरेक्ट सेलिंग का फ़ायदा
आप ई-कॉमर्स के ज़रिए भारत से इंटरनेशनल कस्टमर को सीधे एक्सपोर्ट कर सकते हैं, और आपको दूसरे इंटरमीडिएट के बजाय अपने प्रोडक्ट पर मुनाफा मिलता है. उदाहरण के लिए, अमेरिका का कोई कस्टमर Amazon संयुक्त राज्य अमेरिका पर आपका प्रोडक्ट खरीदता है. आप प्रोडक्ट डिलीवर करते हैं और अपने पसंदीदा बैंक अकाउंट (भारत या अमेरिका) में पेमेंट हासिल करते हैं.

ग्लोबल पहुंच

200+

सेलर के लिए विस्तार करने के लिए देश और प्रदेश

कमाने के अवसर

$3 बिलियन से ज़्यादा

Amazon ग्लोबल सेलिंग पर ई-कॉमर्स एक्सपोर्ट सेल

बढ़ती कम्युनिटी

20 करोड़ से ज़्यादा

दुनिया भर के Amazon Prime मेंबर
रजिस्टर करने में 15 मिनट से भी कम समय लगता है

Amazon ग्लोबल सेलर के तौर पर रजिस्टर करने का तरीका?

1. Amazon ग्लोबल सेलिंग के साथ रजिस्टर करें

Amazon इंटरनेशनल मार्केटप्लेस पर बेचने के लिए, आपको Seller Central पर Amazon सेलर अकाउंट बनाना होगा. रजिस्टर करने में सिर्फ़ 15 मिनट लगते हैं. आपको रजिस्टर करने के लिए सिर्फ ID प्रूफ, एड्रेस प्रूफ और क्रेडिट कार्ड की ज़रुरत है.
Amazon सेलर

2. अपने प्रोडक्ट को लिस्ट करें

Amazon ग्लोबल मार्केटप्लेस पर सेल करना शुरू करने के लिए, आपको सबसे पहले Amazon पर प्रोडक्ट की लिस्टिंग करनी होगी. आप या तो मौजूदा प्रोडक्ट लिस्टिंग से मिलान कर सकते हैं (अगर कोई और पहले से ही Amazon पर वही प्रोडक्ट बेच रहा है), या नई लिस्टिंग बना सकते हैं (अगर आप पहले या इकलौते सेलर हैं).
Amazon प्रोडक्ट लिस्टिंग

3. शिप करें और डिलीवर करें

ग्लोबल ऑर्डर डिलीवर करना सेलर की सफलता और आपके बिज़नेस को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाता है. सेलर Fulfillment by Amazon (FBA) के ज़रिए अपने ग्लोबल ऑर्डर को पूरा कर सकते हैं या थर्ड पार्टी की सर्विस का इस्तेमाल कर सकते हैं.
Amazon ग्लोबल डिलीवरी

4. पेमेंट पाएं और अपना बिज़नेस बढ़ाएं

बिक्री पूरी होने पर अपने अकाउंट में पेमेंट पाएं. Amazon के इंटरनेशनल टूल और सर्विस का इस्तेमाल करके अपने एक्सपोर्ट बिज़नेस को बढ़ाने पर ध्यान दें. Amazon ने सर्विस प्रोवाइडर नेटवर्क बनाया है थर्ड पार्टी के सर्विस प्रोवाइडर की लिस्ट जो आपको रजिस्ट्रेशन, कैटलॉग और लिस्टिंग में मदद देकर भारत से एक्सपोर्ट करने में मदद करेंगे.
Amazon ग्लोबल सेलिंग पेमेंट
देखें: इंडियन ग्लोबल सेलर की सफलता की कहानियां
रजिस्टर करने में 15 मिनट से भी कम समय लगता है

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

मैं अपने प्रोडक्ट को Amazon के ज़रिए भारत से कहां एक्सपोर्ट कर सकता /सकती हूं?
Amazon आपको अमेरिका में USA (amazon.com), कनाडा (amazon.com.ca), मैक्सिको (amazon.com.mx) और ब्राज़ील (amazon.br), यूरोप में UK(amazon.co.uk), जर्मनी(amazon.de), फ्रांस(amazon.fr), इटली(amazon.it), स्पेन(amazon.es), स्वीडन (amazon.se), पोलैंड (amazon.pl) और नीदरलैंड(amazon.nl), मध्य पूर्व में UAE (amazon.ae) और साउदी अरब (amazon.sa) और अंत में एशिया पेसिफ़िक में जापान(amazon.co.jp), सिंगापुर(amazon.sg) और ऑस्ट्रेलिया(amazon.com.au) में 18 मार्केटप्लेस के ज़रिए 200 से ज़्यादा देशों और क्षेत्रों में एक्सपोर्ट एक्सेस करने का ऑफ़र देता है.
What export products can I sell on Amazon international marketplaces?
An Indian exporter can sell a range of products on Amazon across 30+ categories. The top selling product categories from Indian sellers are:
  • Home textile: Bedsheets, kitchen linen, home décor, pillow covers, curtains, carpets, rugs
  • Apparel: Men’s garments, womenswear, kid's fashion, ethnic wear like salwar suits, kurta, lehenga, silk saree
  • Jewelry: Fashion & fine jewelry
  • Leather: Wallets, bags, footwear, accessories
  • Health & personal care: Bath towels, home care, toiletries, bath and body products, essential oils
  • Consumables: Tea, spices like black pepper, cardamom, cinnamon, coffee
  • Ayurveda: Organic products, Health supplements, medical items, food & dietary supplements
  • Beauty products: Personal grooming, makeup, cosmetics, beauty accessories
  • Toys & sport goods: Kids toys, learning/activity boxes, robotic and educational toys, cricket kit
  • Office products & furniture: Notepad, novelties, cane and wooden furniture
  • Electronics: Cell phone devices, electronic accessories, musical instruments, computers, tools, video & DVD, camera
  • Books: Educational, novels, guides
Each product category may require separate licenses and documents, specific to the region of export, origin country and shipping mode. You can use Amazon’s third-party Service Provider Network for assistance in export compliance.
Amazon के ज़रिए एक एक्सपोर्टर के तौर पर खुद को रजिस्टर करने का प्रोसेस क्या है?
Amazon ग्लोबल सेलिंग ने भारतीय MSME को एक्सपोर्ट करने के लिए एक्सपोर्ट प्रोसेस बहुत आसान बना दिया है. Amazon ग्लोबल सेलिंग के साथ एक एक्सपोर्टर के रूप में रजिस्टर करने के लिए, आपको चाहिए
  • ईमेल ID*
  • सही बिज़नेस पता
  • एनेबल किया गया इंटरनेशनल ट्रांज़ैक्शन वाले क्रेडिट कार्ड
  • VAT (सिर्फ़ यूरोप और मध्य पूर्व मार्केटप्लेस के लिए)
Amazon इंटरनेशनल मार्केटप्लेस पर बेचने की लागत क्या है?
Amazon इंटरनेशनल मार्केटप्लेस पर बेचने की लागत संरचना आपके सेलिंग प्लान, प्रोडक्ट कैटेगरी, फुलफ़िलमेंट स्ट्रेटेजी और दूसरे वेरिएबल पर निर्भर करती है. विकल्प लचीले होते हैं जिससे आप अपने बिज़नेस गोल्स के लिए सबसे सटीक संयोजन चुन सकते हैं.
What are the export documents required to sell internationally?
To export from India, sellers have to obtain certain export documents and comply with regulations. Export documents and compliance depends on the product category, origin (India) and destination country. To make your export journey easy, Amazon supports you by providing guidance on the key requirements and regulations, and connects you with experts who will assist you in obtaining your documentation through the Exports Compliance dashboard.

Expand your business globally now!

Join our family of thousands of Indian sellers selling globally
Follow Amazon Global Selling on